Tuesday, September 27, 2022
HomeBusiness IdeaSmall Business Ideas: कहीं भी लेकर बैठ जाइए ये मशीन, हर रोज...

Small Business Ideas: कहीं भी लेकर बैठ जाइए ये मशीन, हर रोज 2000 रुपये तक कमाई

- Advertisment -

आज हम जो स्माल बिज़नेस आईडिया बता रहे है उससे आप इस बिज़नेस को मात्र 10,000 रु में शुरू कर सकते है। अगर आप खुद का व्यवसाय शुरू करने की सोच रहे हैं और कम निवेश में एक सफल बिज़नेस शुरू करना चाहते है तो यह खबर आपके लिए है। हम यहाँ एक ऐसा बिजनेस आइडिया आपके साथ शेयर कर रहे है, जो आपके लिए कमाई का अच्छा जरिया बनेगा।

प्रदूषण जांच केंद्र (Pollution Testing Center) बिज़नेस

आप पीयूसी सेंटर (प्रदूषण जांच केंद्र) खोलकर अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। आपको बता दे की मोटर व्हीकल एक्ट में Pradusan Janch Kendra द्वारा जारी प्रदूषण प्रमाण पत्र (PUC Certificate) को अनिवार्य कर दिया गया है। जिससे इस बिज़नेस के चलने की गारंटी है।

ट्रैफिक पुलिस चेकिंग के दौरान अन्य जरूरी दस्तावेजों के साथ प्रदूषण प्रमाणपत्र (पीयूसी) जरूर मांगती है और ऐसा नहीं करने पर चालक पर जुर्माना लगाया जाता है। इससे फर्क नहीं पड़ता की आपके पास कौन सी गाड़ी है। यानी वाहन के आरसी-लाइसेंस-बीमा के साथ-साथ प्रदूषण प्रमाण पत्र भी बेहद जरूरी है। पॉल्यूशन सर्टिफिकेट नहीं होने के वजह से ट्रैफिक पुलिस द्वारा भरी जुर्माना लगाया जाता है।

इस जुर्माने की राशि से बचने के लिए प्रत्येक चालक हर कोई इसे लेने Pollution Testing Center पहुंचता है। अगर आप प्रदूषण जाँच केंद्र खोलते हैं तो आप इससे अच्छा पैसा कमा सकते है। आप डेली 2000 रूपये रोजाना (महीने के 60 हजार रू) पॉल्यूशन टेस्टिंग सेंटर के जरिये कमा सकते है। मोटर व्हीकल एक्ट में इसके नियम और भी अधिक सख्त कर दिए गए है जिससे अभी इस बिज़नेस की मांग भी अधिक है आप इससे और भी ज्यादा कमा सकते है।

10 हजार के निवेश से शुरू करें काम

प्रदूषण जांच केंद्र बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको ज्यादा खर्च करने की जरूरत नहीं है, आप इसे मात्र 10,000 रुपये से शुरू कर सकते हैं। हर राज्य में प्रदूषण जांच केंद्र की फीस अलग-अलग है। दिल्ली-एनसीआर में सुरक्षा राशि के रूप में 5,000 रुपये और लाइसेंस शुल्क के रूप में 5,000 रुपये यानी कुल शुल्क 10,000 रुपये है। प्रदूषण परीक्षण केंद्र खोलने के लिए भी कुछ नियम और शर्तें हैं। जैसे, इसे पीले रंग के केबिन में ही खोला जा सकता है। केबिन की लंबाई 2.5 मीटर, चौड़ाई 2 मीटर और ऊंचाई 2 मीटर होनी चाहिए। इसके अलावा केंद्र पर लाइसेंस नंबर लिखना जरूरी है।

कितने में बनता है PUC

प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र वाहन के प्रकार और ईंधन के प्रकार के अनुसार बनाया जाता है। इसे 60 रुपये से 150 रुपये तक बनाया जाता है। पीयूसी सर्टिफिकेट की वैलिडिटी नए वाहन के लिए 1 साल और पुराने वाहन के लिए 6 महीने की होती है। प्रदूषण जांच केंद्र के संबंध में अन्य दिशा-निर्देशों की बात करें तो पेट्रोल पंप/ऑटोमोबाइल वर्कशॉप के पास खोलना आवश्यक है। प्रदूषण केंद्र में चेक किए गए सभी वाहनों की डिटेल एक साल तक कंप्यूटर में रखना जरूरी है। इसके अलावा चेकिंग के बाद वाहनों को दिए जाने वाले प्रमाण पत्र पर सरकार से प्राप्त स्टीकर लगाना अनिवार्य है।

ऐसे शुरू कर सकते हैं बिजनेस

प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए अपने क्षेत्र के आरटीओ कार्यालय (आरटीओ) से लाइसेंस लेना होगा। इसके लिए आवेदन करने के साथ ही 10 रुपये का शपथ पत्र देना होता है। स्थानीय प्राधिकरण से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त करना होगा। हर राज्य में प्रदूषण जांच केंद्र की अलग-अलग फीस है। कुछ राज्यों में ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा भी दी गई है। इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपके पास एक कंप्यूटर, यूएसबी वेब कैमरा, इंकजेट प्रिंटर, बिजली की आपूर्ति, इंटरनेट कनेक्शन के साथ स्मोक एनालाइजर होना चाहिए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes