Tuesday, June 28, 2022
Homepoliticsभगवंत मान जीवन परिचय | पंजाब में आप की एकतरफा जीत के...

भगवंत मान जीवन परिचय | पंजाब में आप की एकतरफा जीत के हीरो की कहानी

भगवंत मान जीवन परिचय: कभी किंग ऑफ पंजाब कॉमेडी कहलाने वाले भगवत मान आज पंजाब की राजनीति के किंग है। इनके बारे में एक बात प्रसिद्ध है कि यह दोस्तों को कभी नहीं भूलते। ये जब भी पंजाब से बाहर शो करने जाते थे, गांव के किसी न किसी दोस्त को अपने साथ घुमाने ले जाते उन्हें हवाई यात्रा करवाते थे। आज भी इन्हें दोस्तों के मोबाइल नंबर याद है। भले ही उनकी पहचान कॉमेडियन और कलाकार के रूप में ज्यादा हो रही हो लेकिन राजनीति उनके व्यक्तित्व का एक अभिन्न हिस्सा रही है। बताते हैं कि Bhagwant Mann खेतों में पानी देते समय डंडे को माइक बनाकर भाषण देते थे। उनके कॉमेडी प्रोग्राम में भी राजनीतिक कटाक्ष प्रमुख रूप से शामिल रहते थे।

भगवत मान न केवल एक सफल टीवी कलाकार रहे बल्कि वे एक अच्छे कवि भी हैं। वर्ष 2009 -10 में एक अखबार के लिए नियमित कॉलम भी लिखते थे। मान खेलों में भी खूब दिलचस्पी रखते हैं इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि मैच देखने के लिए कभी कभी रात का अलार्म लगा कर सोते हैं और 2-3 बजे उठकर मैच देखते हैं। उन्हें एनबीए, क्रिकेट, हॉकी और फुटबॉल के मैच देखना पसंद है। वह कई खिलाड़ियों को फॉलो करते हैं खुद भी अक्सर वॉलीबॉल खेलते हैं।

भगवत मान की विशेषता : कहते है की इनकी याददाश्त तेज है ये कभी नंबर नहीं भूलते। भाषण देने के भी शौकीन है। और मैच देखने के भी बहुत शौकीन है।

Bhagwant Mann biography (जीवन परिचय)

नामभगवंत मान (Bhagwant Mann)
जन्म तिथि17 अक्टूबर 1973
जन्म स्थानसंगरूर (पंजाब)
पितामहिंदर सिंह
माताहरपाल कौर
पत्नीइंद्रप्रीत कौर
बच्चेएक बेटा , एक बेटी
शिक्षाबीकॉम ड्रॉप आउट
संपत्ति1.97 करोड़ (2022 में जारी चुनावी घोषणा पत्र के अनुशार )
मुख्य पृष्ठhindiremark.com

शुरुआती जीवन : पिता शिक्षक थे, 12वीं के बाद छोड़ दी पढ़ाई

भगवत मान का जन्म पंजाब के संतोज गांव के सरकारी शिक्षक महिंदर सिंह और हरपाल कौर के घर हुआ था। हरपाल कौर के अनुसार मान 10 साल की उम्र में ही लोगों को खूब हसाते थे। इनका एक छोटा भाई मेवा था जिसकी 6 वर्ष की उम्र में कैंसर से मृत्यु हो गई थी। दुखी परिवार वालों के चेहरे पर इनकी कॉमेडी से खुशी ही आती थी। 1992 में इन्होंने संगरूर स्थित शहीद उधम सिंह गवर्नमेंट कॉलेज में बीकॉम में एडमिशन लिया लेकिन पढ़ाई छोड़ कॉमेडी करने लगे। इनकी एक बहन मनप्रीत कौर है। भगवत मान ने इंदरप्रीत कौर से शादी की पर साल 2015 में दोनों का तलाक हो गया इनका एक बेटा और बेटी है।

भगवत मान कॅरिअर : 25 से ज्यादा एल्बम, 13 फिल्मों व विज्ञापन में काम किया

ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान ही कॉमेडी की फील्ड में आ गए। पंजाब यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित इंटर कॉलेज कॉम्पिटिशन में इन्होने शहीद उधम सिंह कॉलेज के लिए दो गोल्ड मेडल जीते। 1992 में इनकी पहली कॉमेडी और गानों की पैरोडी की कैसेट “गोबी दी ए कच्चीए व्यापारने” आई थी। पर असली पहचान कामेडी एल्बम “कुल्फी गरमा गरम” से मिली। 2013 तक इन्होने कॉमेडी की 25 एल्बम बनाई। 5 गाने भी रिलीज किए। 1994 से 2015 तक 13 हिंदी फिल्मों और विज्ञापनों में भी काम किया। जुगनू, झंडा सिंह, बीबो बुआ और पप्पू पास जैसे कॉमेडी कैरेक्टर इन्ही की देन है।

राजनीति : डंडे को माइक बना भाषण देते थे, पीपीपी के संस्थापक सदस्य

भगवत मान को भाषण देने का शौक बचपन से ही था। खेतों में पानी देने के दौरान डंडे को माइक बनाकर भाषण देने लगते थे। 2011 में प्रकाश सिंह बादल के भतीजे और तत्कालीन वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने अकाली दल से बगावत कर पंजाब पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) बनाई। मान इसके संस्थापक सदस्य बने। 2012 में विधानसभा चुनाव लड़े पर हार गए। 2014 में “आप ” में शामिल हो गए। 2014 के लोकसभा चुनाव में अकाली दल के सुखदेव सिंह ढींडसा को 2 लाख मतों के अंतर से हराया था। 2017 में सुखबीर सिंह बादल के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ा हारे। 2019 में फिर से लोकसभा चुनाव जीता।

विवाद : लोकसभा से निष्कासित किए गए, अंतिम संस्कार में नशे में पहुंचे

  • 2015 में फेसबुक पर पत्नी से तलाक की घोषणा की इसका भी राजनीतिक लाभ लेने का आरोप लगा। पत्नी शराब के नशे में मारपीट करने और घरेलू हिंसा का आरोप लगा चुकी है।
  • 2015 में संगरूर में गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के खिलाफ चल रहे संघर्ष में फायरिंग के दौरान युवकों की मौत हो गई। इसके खिलाफ प्रदर्शन के समय भी शराब पीने का आरोप।
  • 2016 में गायक मनमीत अलीशेर के अंतिम संस्कार में शराब पीकर पहुंचने का आरोप लगा। इसके अलावा कैप्टन अमरिंदर सिंह सदन में शराब पीकर आने का आरोप लगा चुके हैं।
  • 2016 जुलाई में संसद की कार्यवाही का फेसबुक लाइव वीडियो चला दिया। इस पर लोकसभा अध्यक्ष ने सदन से निष्कासित कर दिया। बाद में इन्हें निलंबित भी किया गया।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments